राष्ट्रीय भवन निर्माण संगठन (एनबीओ) के लिए नागरिक चार्टर दस्तावेज 2019-20:

 

विजन

शहरी गरीबी, स्लम, आवास, निर्माण और शहरीकरण सम्बन्धी अन्य सांख्यिकी के संग्रहण, परितुलन, संकलन, सूचना एवं विश्लेषण से सम्बन्धित मामलों के संबंध में राष्ट्र स्तर पर उत्कृष्ट ज्ञान-केन्द्र के रूप में उभरना।

  मिशन

राष्ट्री य भवन निर्माण संगठन (एनबीओ) आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय का अधीनस्था कार्यालय है एवं इसे देश में आवास एवं भवन निर्माण क्रियाकलापों संबंधी सांख्यिकीय सूचना को उचित आधार आंकडों, प्रंबध सूचना प्रणाली एवं ज्ञान कोष सहित संकलित करने, तालिकाबद्ध करने और प्रसार करने का कार्य सौंपा गया है जिससे मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित की जा रही योजनाओं में सहयोग किया जा सके।

 जारी करने की तिथि :  27/01/2019
अगली समीक्षा :   26/01/2020

उद्देश्य

  • आयोजना और नीति निर्माण के लक्ष्यों को आगे बढ़ाने के लिए आवास एवं स्लम सम्बन्धी आंकड़ों का संग्रहण एवं प्रसार।
  • नियोजित उपलब्धि हेतु समर्थन औऱ क्षमता निर्माण।
  • आवास, शहरी गरीबी एवं स्लम के लिए ऱाष्ट्रीय संसाधन केन्द्र/ज्ञान
  • इस प्रकार संग्रहीत एवं तालिकाबद्ध आंकड़े एनबीओ में प्रकाशित प्रकाशनों के रूप में उपलब्ध हंं और संपूर्ण सूचना एनबीओ की वैबसाइट पर भी डाली गई है।
  • आयोजना, नीति निर्माण तथा कार्यान्वयन, विशेष रूप से स्लम एवं आवास से संबंधित कार्यक्रमों के संदर्भ में सूचना आधार तथा ज्ञान निविशिष्टियों के साथ आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय तथा अन्य मंत्रालयों की सहायता करना।

कार्य

  • शहरी गरीबी, स्लम, आवास, भवन निर्माण एवं सम्बन्धित सांख्यिकी के संबंध में राष्ट्रीय संसाधन केन्द्र एवं निधान के रूप में कार्य करना और राज्य एवं शहरी स्थानीय निकाय औऱ अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर समान संसाधन केन्द्रों से सम्पर्क स्थापित करना।
  • समय-समय पर भवन निर्माण, आवास एवं अन्य सम्बन्धित सांख्यिकी तथा सांख्यिकीय रिपोर्टों के संबंध में आंकड़ों को एकत्रित करना, परितुलन करना, विधिमान्य बनाना, विश्लेषण करना, प्रसार करना एवं प्रकाशित करना।
  • जनगणना, एनएसएसओ इत्यादि जैसे विभिन्न स्रोतों से एकत्रित किए गए सांख्यिकीय आंकड़ों का विश्लेषण करके शहरी गरीबी, स्लम, आवास और भवन निर्माण सांख्यिकी तथा अनुप्रयुक्त अनुसंधान प्रकाशनों के संबंध में सार-संग्रह प्रकाशित करना।
  • नीतियों और प्रोग्रामरों के लिए यथा आवश्यक प्रसारित शहरी आकड़ों को रखने, प्रबंधन और इनकी पुन: प्राप्ति के लिये समुचित प्रणालियों तथा ई.गवर्नेंस के टूल्स की व्यवस्था के साथ पूर्णतया कम्प्युटरीकृत डाटा केंद्र स्थापित करना और उसका प्रबंधन करना।
  • आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय तथा अन्य मंत्रालयों द्वारा चलाई जा रही योजना स्कीमों के प्रभाव का अध्ययन करने के लिए देश के विभिन्न् भागों में नियमित रूप से लघु अवधि के नमूना सर्वेक्षण/फील्ड अध्ययन करना तथा य़था आवश्यक मूल आंकड़ों को इकट्ठा करना।
  • स्लम विकास/ उन्नयन, किफायती आवास तथा शहरी गरीबों को बुनियादी सेवाओं जैसे क्षेत्रों शामिल करते हुए, नीतियों, योजनाओं कार्यक्रमों तथा परियोजनाओं के अभिकल्प, परियोजनाओं को तैयार करने, कार्यान्वयन, निगरानी, समीक्षा तथा प्रभाव मूल्यांकन से सम्बन्धित सामाजिक-आर्थिक अनुसंधान के कार्य आरंभ करना।
  • शहरी गरीबी, स्लम, आवास, भवन निर्माण एवं सम्बन्धित शहरी सांख्यिकी के संबंध में एक प्रलेखन केन्द्र विकसित करना जो उत्तम प्रक्रियाओं एवं नवन्मेषों सहित शहरी संसाधनों के निधान के रूप में कार्य कर सकता है।
  • भवन निर्माण तथा आवास से सम्बन्धित कार्यकलापों संबंधी मूल आंकड़ों के एकत्रीकरण और प्रसार के कार्य में लगी राज्य सरकारों औऱ शहरी स्थानीय निकायों के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए क्षमता निर्माण/ प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन करना।
  • शहरी गरीबी, स्लम एवं आवास इत्यादि से सम्बन्धित क्षेत्रों में शहरी नीति निर्माताओं, आयोजनाकारों एवं अनुसंधानकर्ताओं की आंकड़ा एवं एमआईएस जरूरतों को एक नोडल एजेंसी के रूप में पूरा करने में जुटी राज्य सरकारों/नगरपालिका प्राधिकरणों/अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थानों/सांख्यिकी संस्थानों/अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के साथ समन्वय एवं सहयोग करना।
 

आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के विभिन्न मुख्यन कार्यकलापों में एनबीओ की भूमिका :-

  • सभी के लिए आवास (शहरी) के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना एवं जवाहर लाल नेहरू राष्ट्री य नवीणकरण मिशन “की (जे.एन.एन.यू.आर.एम.) केन्द्री य स्वीमकृति एवं निगरानी समिति की बैठकों का आयोजन, संचालन एवं समीक्षा करना।
  • राष्ट्रीय भवन निर्माण संगठन, राज्य सरकारों, राष्ट्री य आवासीय बैंक (एनएचबी), राष्ट्री य सूचना केन्द्र् (एन.आई.सी.), भारत के महा-पंजीयक का कार्यालय (आर.जी.आई) एवमं राष्ट्री य प्रतिदर्श सर्वेक्षण कार्यालय (एन.एस.एस.ओ) के साथ समन्वयय कर आंकडे एकत्रित करने का कार्य करता है।
  • हाल ही में आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने राज्योंव एवं संघ शासित सरकारों द्वारा सभी 4041 वैधानिक शहरों (जनगणना 2011 के अनुसार) में विशेष रूप से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग/ अल्पन आय समूह के लिए निर्मित/ निर्माणाधीन आवासों की संख्या) के संग्रह एवं संकलन का कार्य एन बी ओ को सौंपा है।

शिकायत निवारण तंत्र

 
क्र.सं. लोक शिकायत अधिकारी का नाम टेलीफोन नंबर ईमेल मोबाइल नंबर
श्री उमराव सिंह, निदेशक एवं विभागाध्यक्ष, (एनबीओ) 23061692 umraw.s@gov.in 9868818077
 

नागरिक चार्टर का कार्यान्वयन, अनुवीक्षण और समीक्षा

 
क्र.सं. लोक शिकायत अधिकारी का नाम टेलीफोन नंबर ईमेल मोबाइल नंबर
शश्री उमराव सिंह, निदेशक एवं विभागाध्यक्ष, (एनबीओ) 23061692 umraw.s@gov.in 9868818077
श्री अनिल कुमार, उप निदेशक, एनबीओ 23061174 anil.kumar20@nic.in 9811676262
 

हितधारकों/ ग्राहकों की सूची

 
क्र.सं. हितधारक/ग्राहक
केन्द्रीय सरकार के मंत्रालय / विभाग और संगठन
राज्य सरकार / संघ शासित प्रशासन और संगठन
स्वायत्त निकाय और पीएसयू
शहरी स्थानीय निकाय
नागरिक
 

सेवा से सूचित अपेक्षाएं

 
क्र.सं. सेवा प्राप्तकर्ता से निर्देशक अपेक्षाएं
रिपोर्टें एनबीओ द्वारा विकसित विहित फार्मेट मे भेजें और एनबीओ की वैबसाइट का प्रयोग करते हुए आंकडें ऑनलाइन ट्रांसमिशन के माध्यम से संप्रेषित करें।
राज्य सरकार / संघ शासित प्रशासन को उन्हें जारी की गई निधियों का उचित तरीके से उपयोग करना चाहिए और कार्यों को समय पर पूरा करने का प्रयास करना चाहिए ।
राज्य के प्रतिनिधि को प्रशिक्षण/कार्यशाला/सम्मलेन में पूर्ण सूचना जानकारी के साथ भाग लेना चाहिए।

ब्रिक्स:

आवास और निर्माण के आंकड़ों पर एक अत्याधुनिक पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत प्रबंधन सूचना प्रणाली विकसित करने के लिए। एनबीओ में ई-यून िट को राज्य सरकारों के विभागों / अर्थशास्त्र और सांख्यिकी ब्यूरो, नगरपालिका प्रशासन, नगर निगमों, नगर पालिकाओं आदि से जोड़ा जाएगा। और पढो..